News

8 और 9 जून को खगड़िया में सीपीआई का जन सत्याग्रह एवं जेल भरो आंदोलन चलाया गया

खगड़िया: भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी के राजनीति अभियान भाजपा हटाओ- देश बचाओ के तहत खगड़िया समाहरणालय पर 8 एवं 9 जून को जन सत्याग्रह एवं जेल भरो आंदोलन चलाया गया। सीपीआई खगड़िया जिला परिषद के द्वारा 8 जून को जिला समाहरणालय पर सत्याग्रह सह जेल भरो आंदोलन में खगड़िया अनुमंडल के अलौली, खगड़िया, मानसी एवं चौथम प्रखंडों से बड़ी तादाद में सीपीआई कार्यकर्ताओं एवं समर्थकों ने भाग लिया।
चिलचिलाती धूप में सत्याग्रहियों का जत्था चिल्ड्रेन पार्क खगड़िया में जमा होकर जुलुश के शक्ल में तब्दील हो दूरभाष केंद्र चौक, कचहरी रोड होते हुए समाहरणालय द्वार पहुँचा।  समाहरणालय द्वार पर सत्याग्रहियों ने केंद्र की मोदी सरकार के विरोध में तथा स्थानीय जन समस्याओं के समर्थन जमकर नारेबाजी करते हुए समाहरणालय के पश्चिमी द्वार को पूर्णतः जाम कर दिया। घंटो जाम के बाद खगड़िया सदर एस डी ओ एवं प्रतिनियुक्ति दंडाधिकारी के द्वारा सत्याग्रहियों के गिरफ्तारी की घोषणा किया गया। गिरफ्तारी के बाद मैके पर ही सीपीआई के सहायक जिला मंत्री पुनीत मुखिया की अध्यक्षता सभा की गई। जन सत्याग्रह एवं जेल भरो आंदोलन के औचित्य पर प्रकाश डालते हुए सीपीआई के राज्य सचिवमंडल सदस्य प्रभाशंकर सिंह में कहा कि केंद्र की सत्ता पर बैठी मोदी सरकार जन विरोधी है। देश में बेरोजगारी चरम सीमा पर है। किसानों के अनाज का उचित मूल्य नहीं मिल पा रहा है। कमरतोड़ महंगाई से गरीब जनता परेशान हैं। सभा को संबोधित करते हुए पार्टी के जिला मंत्री प्रभाकर प्रसाद सिंह ने  कहा कि केंद्र की नरेंद्र मोदी की सरकार अपने विगत 9 वर्षों के कार्यकाल में देश के बड़े बड़े पूंजीपतियों के पक्ष के अधिक एवं देश के आमजानों के हित में कम काम किया है। यह सरकार देश के सार्वजनिक क्षेत्रों को औने पौने भाव में अपने मित्र पूंजीपतियों को दे रही है। इसकी आर्थिक नीतियों के बजह से बढ़ रही महंगाई की मार से आम जन त्रस्त है। नई शिक्षा नीति शिक्षा के निजीकरण एवं बाजारीकरण का द्वारा खोलने वाला है। जिससे गरीब तबके से आनेवाले बच्चों पर इसका सीधा प्रभाव पड़ेगा। 

उन्हौने कहा खगड़िया जिला के विभिन्न इलाकों में वर्षों से बसे लोगों को बासगीत का पर्चा नहीं मिला है। सैकड़ो लोग जो बांध,रेलवे लाइन एवं सड़क के किनारे बसे हुए हैं, उन्हें पुनर्वासित नहीं किया गया है। आगे उन्हौने सरकार से खगड़िया जिला में केला, मक्का एवं दूध आधारित उद्योग लगाने की मांग किया।

पार्टी के जिला कार्यकारिणी सदस्य सह खगड़िया जिला पार्षद रजनीकांत कुमार ने अपने सम्बोधन में कहा कि स्थानीय प्रशासन के मिलीभगत के बजह से जन कल्याणकारी योजनाओं की राशि को जनप्रतिनिधि, भ्रष्ट अधिकारी एवं बिचौलिया मिलकर लूट रहे हैं। खगड़िया जिला में स्कूली शिक्षा की स्थिति बदतर है। अधिकांश शिक्षक अध्यापन के कार्य से अनुपस्थित रहते हैं।
8 जून के इस कार्यक्रम में पार्टी के राज्य परिषद सदस्य रोहित सदा, जिला कार्यकारिणी सदस्य विष्णुदेव शर्मा, अभिषेक कुमार, अलौली अंचल मंत्री मनोज सदा, खगड़िया अंचल मंत्री विभाष चंद्र बोस, चौथम अंचल मंत्री अनिल कुमार सिंह, पार्टी के जिला परिषद सदस्य छोटेलाल सिंह, भागवत सिंह, घनश्याम तांती, राधेश्याम तांती, झुना देवी, प्रमोद राम, चंद्रकिशोर यादव, प्रशांत सुमन, बचो सदा सहित सैकड़ों लोग शामिल थे।

समाहरणालय पर दूसरे दिन भी जारी रहा सीपीआई का सत्याग्रह

राज्यव्यापी आह्वान के तहत अगले दिन 9 जून को भी जिला समाहरणालय पर सत्याग्रह सह जेल भरो आंदोलन चलाया गया। बेलदौर, गोगरी एवं परबत्ता प्रखंडों के सत्याग्रहियों ने पार्टी जिला कार्यालय योगीन्द्र भवन से जुलुश के शक्ल में दूरभाष केंद्र चौक, कचहरी रोड होते हुए समाहरणालय द्वार पहुँचा। आज भी समाहरणालय द्वार को को सैकड़ो सत्याग्रहियों ने पूर्णतः जाम कर अंदर की आवाजाही को बंद कर दिया। इस दौरान केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार के जनविरोधी नीतियों के विरोध में जमकर नारेबाजी हुई। सत्याग्रही स्थानीय सवालों को लेकर जिला प्रशासन के खिलाफ भी नारेबाजी करते दिखे। मौके पर पहुँचकर खगड़िया सदर एस डी ओ द्वारा सत्याग्रहियों के गिरफ्तारी की घोषणा किया गया। गिरफ्तारी के बाद सहायक जिला मंत्री रविन्द्र यादव की अध्यक्षता में मौके पर ही सभा हुई। सभा को संबोधित करते हुए सीपीआई जिला मंत्री प्रभाकर प्रसाद सिंह ने कहा कि केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार के आर्थिक नीतियों की बजह से देश मे आसमान रूप से आर्थिक विकास हुआ है। कुछ मुट्ठी भर लोगों की समपत्ति में बेतहाशा वृद्धि हुई जबकि बहुसंख्यक लोग आर्थिक रूप पिछड़ गए हैं। आमजन आज महंगाई की मार से त्रस्त हैं। यह सरकार ना तो किसान समर्थक है और न ही बेरोजगार हितैसी है।
आगे उन्हौने कहा कि खगड़िया-अगुआनि सुल्तानगंज पुल बीते एक वर्ष में दुशरी बार ध्वस्त हुई है। यह निर्माण में व्याप्त भ्रष्टाचार को जाहिर करता है। उन्हौने इसकी उच्च स्तरीय जांच कराने  तथा संवेदक के खिलाफ उचित कानूनी करवाई करने का मांग किया।

वही सहायक जिला सचिव सह बिहार राज्य परिषद सदस्य पुनीत मुखिया ने कहा कि बिहार में भूमि सुधार कानून की अभी भी सही से लागू नहीं किया जा रहा है। हजारों भूमिहीन लोग आज भी बासगीत पर्चा से वंचित हैं और सैकड़ो प्रचाधारी भूमि से वेदखल हैं। गैर मजरूआ आम एवं खास, झील- बकाश्त की जमीन पर नवधनाढ्य वर्ग एवं आपराधिक छवि के लोग कब्जा किये हुए है। आगे उन्हौने सड़क बांध एवं रेलवे लाइन के किनारे बसे लोगों को पुनर्वासित करने का मांग किया। उन्हौने कहा नदी कटाव से विस्थापित परिवार आज पुनर्वास के लिए भटक रहे हैं।
परबत्ता अंचल मंत्री कैलाश पासवान ने अपने संबोधन में कहा कि खगड़िया जिला में मक्का उत्पादक किसानों को उपज का उचित मूल्य नहीं मिल रहा है। परबत्ता एवं गोगरी अंचल में केला की बहुतायत खेती होती है। इस वर्ष अंधी में नष्ट हुए केला उत्पादक किसानों को सरकार अभी तक मुआवजा नहीं दिया है।
वही पार्टी के जिला कार्यकारिणी सदस्य एवं जिला पार्षद रजनीकांत कुमार ने कहा कि प्रखंड कार्यालय से लेकर ऊपर तक भ्रष्टाचार व्याप्त है।  पूरे जिले में प्रधानमंत्री आवास योजना में लूट मची हुई है। आवास सहायक और संबंधित जनप्रतिनिधि मिलकर 25 से 30 हजार रुपया घुस लेते हैं। किसानों की केवाला के दाखिल खारिज में राजस्व कर्मचारी एवं अंचलाधिकारी मोटी रकम रिश्वत के रूप में लेते हैं। जिससे आम जन और किसान परेशान हैं। आगे उन्हौने कहा जिले में कानून व्यवस्था की स्थिति अच्छी नहीं है। अपराधियों का मनोवल खुलेआम सर चढ़कर बोल रहा है।
दुशरे दिन की सत्याग्रह में जिला कार्यकारिणी सदस्य कृष्ण कुमार शर्मा, नारायण साह, विन्देश्वरी साह, बेलदौर अंचल मंत्री सुरेश सिंह, गोगरी अंचल मंत्री राजमोहन यादव, परबत्ता के सहायक अंचल मंत्री मनोज दास, पार्टी के जिला परिषद सदस्य सर्बोत्तम कुमार, शंकर साहनी, विशेश्वर चौधरी, अरुण यादव, चमकलाल सिंह, राजनीति सिंह, चंद्रकिशोर यादव, गगन कुमार, केशव कुमार, जोगिन्द्र सिंह आदि सैकड़ों लोग शामिल थे। सभा के अंत में चित्रगुप्त नगर थानाध्यक्ष निजी मुचलके पर तमाम गिरफ्तार सत्याग्रहियों को रिहा कर दिया। बाद में पता चला कि पार्टी के जिला मंत्री प्रभाकर प्रसाद सिंह सहित सैकड़ों अज्ञात पार्टी कार्यकर्ताओं पर शहर के चित्रगुप्त नगर थाना में प्रशासन ने एफ आई आर दर्ज किया गया है।

Related Articles

Back to top button